नैनीताल जाने से पहले इन खूबसूरत वादियों के बारे में जान लें

नैनीताल उत्तराखंड के कुमाऊ एरिया में बसा हुआ है, ये खूबसूरत सा शहर इस स्टेट का बहुत ख़ास टूरिस्ट सिटी है, यह शहर का हेडक्वार्टर भी है और उत्तराखंड में सबसे ज्यादा विज़िट की जाने वाली जगह है, हालांकि नैनीताल तक पहुंचना टूरिस्टों के लिए काफी इज़ी है और यहां आप वीकेंड में दिनों में बड़ी ही आसानी से घूमघाम कर मस्ती कर सकते हैं, अगर बात की जाए दिल्ली वालों की तो गाजियाबाद, नोएडा, गुड़गांव के लोगों का यह फेवरिट डेस्टिनेशन हब हैं।

नैनीताल की इन खूबसूरत वादियों के बारे में अभी जानें।

Nights Honeymoon Packages
source : euttaranchal.com
यहां लोग मोस्टली नेचुरल ब्यूटी और झीलों का को देखने का मज़ा लेने आते हैं. नैनी का अर्थ है आंखें और ताल का अर्थ होता है झील. वो बोलते हैं ना "तुम्हारी झील सी आँखों में डूब जाऊं" जी हाँ, यूँ ही नही नाम पड़ा इस जगह का जो आपका मनमोहित कर देने के साथ  इस शहर का संबंध इसी शब्द से जोड़ा गया है. इसी वजह से इसका नाम नैनीताल पड़ा।

अब अगर आप लखनऊ से नैनीताल के लिए ट्रेवल करते हैं आप चारबाग़ रेलवे स्टेशन से काठगोदाम तक का सफ़र करेंगे जिसकी दूरी 365 KM है जिसमें ट्रेन से 10 से 11 घण्टे लगेंगे और कार से 9 घण्टे, उसके बाद काठगोदाम से नैनीताल 24 Km की दूरी तय करना पड़ेगा बता दें कि, काठगोदाम से आगे ट्रेन नही जाती इस लिए आपको टैक्सी या बस से जाना होगा।

दिल्ली से नैनीताल जाने का प्लान कर रहे हैं तो आपको सफर में कुल 10 घंटे और 52 मिनट का टाइम  लगेगा. दिल्ली से नैनीताल जाने के लिए आपको ISBT कश्मीरी गेट से सीधा बस मिल जाएगी है. वहीं आप उत्तराखंड आकर यहां देहरादून से नैनीताल जाना चाहते हैं तो आपको नैनीताल पहुंचने में तक़रीबन 7 घंटे 56 मिनट लगते हैं. नैनीताल की देहरादून से कुल दूरी 278.8 KM है।

कुमाऊं एरिया में नैनीताल जिले का ख़ास महत्व माना गया है. देश के मुख्य टूरिस्ट क्षेत्रों में नैनीताल का भी अहम रोल है. यह एरिया ‘छखाता’ तहसील में आता है. छखाता नाम को ‘षष्टिखात’ नाम से भी जाना जाता है, जिसका मतलब साठ तालों यानि की झीलों से है. इस जगह पर पहले साठ मनोरम ताल थे ऐसा कहा जाता है, आज इस जगह को ‘छखाता’ नाम से ज़्यादा जाना जाता है।

आज भी नैनीताल डिस्ट्रिक्ट में सबसे ज़्यादा ताल हैं. जो कि यहां की दिलकश खूबसूरती को और भी ज्यादा शानदार बनाते हैं. इसे इंडिया का लेक डिस्ट्रिक्ट भी कहा जाता है और यही वजह है कि हर साल हज़ारों नही बल्कि लाखों की संख्या में देश और विदेशों से टूरिस्ट अपनी छुट्टियों का आनंद लेने आते हैं, यहाँ के झील का पानी बहुत ही शांत है यही वजह है कि इसमें टूरिस्ट आपको वोटिंग "नाव" चलते हुए नज़र आ जाएंगे।


तो अब बात करते है यहाँ खाने पीने की फैसिलिटी के बारे में दोस्तों ये शहर मज़ेदार तो है साथ ही यहां के खाने में आपको अपनी सिटी का लोकल टेस्ट वाला टच मिलता है,  खाने के लिए यहां बेज, और नॉन-वेज दोंनो टाइप के ऑप्शन  मौजूद हैं डिपेंड आप पर करता है क्या कहना पसंद करते हैं, अपना पर्सनल एक्सपीरियंस बताऊ तो हमेशा मेन मार्किट के हट कर आप वहां की लोकल मार्किट के खाना-खाना चाहिए इससे आपको स्थानीय ट्रेडिशनल फ़ूड अन्य ज़ायकों का स्वाद चखने का मौका मिल जायेगा, और मेरा मानना है  थोड़ा सस्ता और फ्रेश भी मिलता है।

यहां पर आपको रहने के लिए स्टार्टिंग रेट 500 रुपये में आसानी से रूम मिल जायेंगे. हालांकि ज्यादातर लोग यहां गर्मियों में अपनी छुट्टियां बिताने आते हैं जिसकी वजह से इस समय में आपको ये रूम्स थोड़े महंगे भी मिल सकते हैं परन्तु नवंबर से जनवरी के महीनों में यहां आपको ज्यादा मज़ा आएगा. हम यह ज़रूर कहना चाहेंगे कि यार एक बार घूमने तो जाना बनता है अगर अभी तक आप नही गए हैं तो. फिर चाहे यार दोस्त हों का साथ हो या फिर अपना परिवार साथ।

ये भी पढ़ें :- इंडिया के 5 खूबसूरत पहाड़ी रेलवे स्टेशन, घूमने ज़रूर जाएँ

नैनीताल के आस-पास क्या है.?


काठगोदामः नैनीताल से काठगोदाम जाने के लिए बस या कार से लगभग 1 घंटे का वक़्त लगता है. काठगोदाम नैनीताल से की दूरी 35 KM है. आप नैनीताल अपनी सुविधानुसार बस या टैक्सी से काठगोदाम निकल सकते हैं ज़रूरी बात यहाँ आपको टेक्सी शेयरिंग का ऑप्शन मिल जाता है जिससे थोड़े पैसे बचा सकते हैं, काठगोदाम में आप नेचुरल ब्यूटी का लुत्फ उटा सकते हैं. यहां की वादियों की खूबसूरती को अपने नैनो से निहारते हुए सफर का एन्जॉय कर सकते हैं।

भवालीः अगर नैनीताल से भवाली की बात करें तो सिर्फ़ आधा घंटे का समय लगता है जो कि नैनीताल से 15 KM की दूरी पर मौजूद है. ये जगह आपके लिए घूमने, रहने, और खाने के लिए शानदार हो सकती है. उत्तराखंड के इस क्षेत्र में सबसे ज्यादा और टेस्टी सेबों की पैदावार यही पर होती है।

भीमतालः नैनीताल से भीमताल पहुंचने के लिए आपको 50 मिनट का वक़्त लगते हैं. भीमताल और नैनीताल की टोटल  दूरी 25 KM की है. भीमताल भी यहां के सबसे खूबसूरत तालों में से एक ताल है. यहां भी हर साल हज़ारों लोग देश-विदेश से घूमने के लिए आते हैं।

मुक्तेश्वरः यहां से मुक्तेश्वर पहुंचने में लगभग 1 घंटा और 50 मिनट का वक़्त लगता है. मुक्तेश्वर बहुत ही शानदार टाउन है जो कि नैनीताल डिस्ट्रिक में आता है. यह आपके लिए एक अच्छा टूरिस्ट डेस्टिनेशन हो सकती है।

दोस्तों, यह पोस्ट आपको कैसा लगा और नैनीताल से जुड़ी आपके पास कोई जानकारी हो तो कृपया कमेंट बॉक्स में ज़रूर बताएं साथ ही यह पोस्ट अच्छा लगा तो इसे अपने दोस्तों के पास शेयर करना बिल्कुल न भूलें।

No comments